Thursday, May 19, 2016

भजन







बंसी बजाने वाले बंसी की धुन सुनाना, बंसी की धुन सुनाना,
जीवन मेरा अँधेरा तुम ज्योत बनके आना, तुम ज्योत बन के आना -

१. कोई नहीं हमारा नैया का है खिवैया -२ 
               तेरे सिवा कन्हैया मेरा कहाँ ठिकाना, मेरा कहाँ ठिकाना 

२. अज्ञानता हमारी प्रभुजी ये दूर करना -२ 
              गीता सुना के अपना प्रेमी मुझे बनाना, प्रेमी मुझे बनाना  ॥  

No comments:

Post a Comment